Home remedies for varicose veins

Treatment for disease Varicose Veins
Treatment for disease Varicose Veins

Home remedies for varicose veins : वैरिकोस वेन्स क्या है,क्या ईलाज हमे लम्बे समय तक करना पड़ेगा,क्या इसकी कोई दवाई बार-बार लेनी पड़ेगी या सर्जरी बार-बार करवानी पड़ेगी इस Post में वैरिकोस वेन्स का घरेलू ईलाज व् आयुर्वेदिक ईलाज बताया जाएगा,वैरिकोस वेन्स में किन चीजों का सेवन नहीं करना किन चीजों का सेवन करना है |

इस पोस्ट को शुरू करने से पहले आपको एक बात बताना जरूरी है कि यह पोस्ट नीचे दी गईं वीडियो का लिखित रूप है | जो जानकारी इस वीडियो में दी गईं है वही जानकारी इस पोस्ट में भी दी गईं है |

इस Post की वीडियो को देखने के लिए नीचे Play बटन पर Click करें

वैरिकोस वेन्स क्या है -What is varicose veins :-

हमारे ह्रदय से दो नसें बाहर निकलती है ,एक नस हमारे ह्रदय से खून को बाहर ले जाती है ,जिसे आर्टरीज कहते है |
दूसरी नस ह्रदय में खून को वापिस लाती है ,एक सर्कल के द्वारा खून वापिस लाने वाली नस को वेन कहते है |

वेन के अंदर वोल्वस बनी होती है आर्टरीज में कोई वोल्वस नहीं होती ,और आर्टरीज में कोई समस्या नहीं आती है ,वेन्स के अंदर एक वोल्वस बनी होती है जो खून को ऊपर की तरफ भेजती है हमारे खून का सर्कुलेशन होता है वो हमारे पैरों से ऊपर ह्रदय की ओर और सिर की तरफ जाता है लेकिन ये वोल्वस किसी कारण ब्लॉक हो जाती है |


वोल्वस ब्लॉक होने के क्या कारण है – What causes volvus block :-

नसें ब्लॉक होने पर खून ऊपर की तरफ नहीं जा पाता टांगों में ही रुक जाता है और खून नीला पड़ जाता है उसके बाद वहां खुजली होने लगती है,दर्द होने लगता है,जलन रहने लगती है |

अगर ये चीजें देख कर भी हम ईलाज नहीं करेंगे तो वैरिकोस वेन्स की समस्या बढ़ जाएगी |

वैरिकोस वेन्स होने के कारण -Due to varicose veins :-

महिलाओं में वैरिकोस वेन्स होने के कारण – Varicose veins in women

वैरिकोस वेन्स की समस्या आज कल बहुत हो गई है, लेकिन यह समस्या महिलाओं में ज्यादा देखने को मिलती है |

  • महिलाओं में हार्मोन्स ज्यादा चेंज होते है अगर उनका काम ज्यादा समय तक खड़े रहने का है ,या फिर लम्बे समय तक बैठे रहने का है तो 100 % यह समस्या महिलाओं के टांगों से शुरू हो कर ऊपर की तरफ जाती है |
पुरुषो व् अन्य लोगों में वैरिकोस वेन्स होने के कारण – Varicose veins among men and others
  • जिन लोगों का मोटापा ज्यादा है उन लोगों को वैरिकोस वेन्स हो जाता है |
  • जिन लोगों की उम्र 50 से ऊपर है उनको भी वैरिकोस वेन्स की समस्या होने लगती है |
  • जिनकी ज़िंदगी में कोई गतिविधि नहीं है तो उनकी नसें कमजोर होती-होती अपना काम करना बंद कर देती है |

वैरिकोस वेन्स की समस्या को ठीक करने के लिए घरेलू व् आयुर्वेदिक ईलाज क्या है आईये जानते है :-

घरेलू ईलाज -Home treatment :-

लहसुन / अजवायन – Garlic / Parsley
  • आपने 2 कली लहसुन(Garlic) लेनी है 1/4 चमच्च अजवायन(Parsley) लेनी है ,1 गिलास पानी में उबाल कर दिन में 2 बार पी लें, यानिकि आधा गिलास सुबह के समय और आधा शाम को पी लेना है, लहसुन खून को पतला करता है ऐसा करने पर वैरिकोस वेन्स सही होगा और नसों में खून के थक्के(Blood clots) नहीं जमेंगे |

(और पढ़ें – कब ना करें लहसुन का सेवन )

आयुर्वेदिक ईलाज -Ayurvedic treatment :-

अलसी / अर्जुन की छाल का पाउडर – Flax Seeds / Arjun bark powder
  • आधा चमच्च अलसी लेनी है और 1/4 चमच्च अर्जुन की छाल का पाउडर लेना है इसे आप 1 गिलास पानी में उबाल लें और दिन में 1 बार पीना है यानिकि आपने 1 गिलास पानी के अंदर इन दोनों को उबाल लेना है जब पानी आधा रह जाए तब इसे गुनगुना कर के छान लेना है और पानी को पी लेना है |

(और पढ़ें – अलसी के फायदे )

आपने घरेलू ईलाज या आयुर्वेदिक ईलाज में से एक ही ईलाज करना है दोनों नहीं करने |

मालिश कैसे करें – Massage :-

  • 2-3 चमच्च अलसी(Flax Seeds),आधा गिलास तिल का तेल(Sesame oil) लेना है ,तिल के तेल के अंदर अलसी डालकर गर्म करना है उसके बाद यह एक तेल तैयार हो जाएगा इस तेल से आपने वेन्स की हल्के-हल्के मालिश करनी है |

व्यायाम – work out :-

  • आपने जमीन पर लेट कर अपनी टांगों को दीवार के सहारे सीधा खड़ा करना है ऐसा आपने दिन में 4 से 5 बार करना है ऐसा करने से टांगों में खून रुका है वह दुबारा शुरू हो जाएगा |

वैरिकोस वेन्स में क्या करें – What to do in Varicose Veins :-

  • अगर आप ज्यादा समय तक खड़े रहते है तो खड़े रहना बंद कर दीजिये |
  • ज्यादा समय तक एक ही जगह बैठे रहते है तो एक ही जगह बैठे रहना बंद कर दें |
  • दिन में कोई भी काम जरूर करें |
  • पैरों को हिलाने वाली कोई भी व्यायाम जरूर करें |
  • सुबह-शाम 30 मिनट सैर(walk) जरूर करें |

वैरिकोस वेन्स में किन चीजों का सेवन ना करें – What not to eat in varicose veins :-

  • चीनी(sugar) और नमक(Salt) का सेवन ज्यादा मात्रा में ना करें |
  • मैदा(Flour) का सेवन बिल्कुल ना करें |
  • पेगिट बंद चीजों का सेवन ना करें |
  • चाय-कॉफी(Tea-Coffee) का सेवन जितना हो सके उतना कम करें |

ये थी जानकारी वैरिकोस वेन्स के घरेलू इलाज के बारे में |

अगर आप को ये Post अच्छी लगी तो Comment कर के जरूर बताएं और अपने Friends के साथ जरूर शेयर कीजिएगा अगर अभी तक आप ने मेरी Website www.myfitnessbeauty.com को Subscribe नहीं किया है तो Subscribe कर लीजिए तांकि मेरे आने वाले Post के Notification और उसके Updates आप को मिलते रहें |

मिलते है Next Post में तब तक के लिए Good Bye |

दिव्या शर्मा

Our Other Posts
Gout,Uric Acid Treatment
Benefits & loss of Dalchini
Nerve problem ke liye Nutrition| Nerve Pain In Hindi
Leg Pain Relief
Tonsil Stone Removal,thoart infection treatment