Disadvantages of drinking too much water

Disadvantages of drinking too much water
Disadvantages of drinking too much water

Disadvantages of drinking too much water : कहीं आप भी तो बहुत ज्यादा पानी नहीं पी रहे, कब पानी पीना जरूरी है, और कब पानी नहीं पीना चाहिए, इस Post में जानेंगे –

1. पानी है जरूरी मगर सही हो मात्रा |
2. प्यास लगे तभी पीना चाहिए पानी |
3. जबरदस्ती पानी पिने के नुकसान |
4. कितना पानी पीना है सही |

इस पोस्ट को शुरू करने से पहले आपको एक बात बताना जरूरी है कि यह पोस्ट नीचे दी गईं वीडियो का लिखित रूप है | जो जानकारी इस वीडियो में दी गईं है वही जानकारी इस पोस्ट में भी दी गईं है |

इस Post की वीडियो को देखने के लिए नीचे Play बटन पर Click करें


1. Disadvantages of drinking too much water : पानी है जरूरी मगर सही हो मात्रा :-

  • Disadvantages of drinking too much water : पानी पीना हमारे शरीर के लिए कितना जरूरी है ये बात हमसे छुपी नहीं है पानी न सिर्फ हमारे शरीर को हाइट्रेड करता है बल्कि कहीं तरह के शरीर के समारोह को बेतर तरिके से चलाता है |
  • पानी हमारे शरीर के लिए जरूरी है क्योकि हम जो भी भोजन खाते है उससे मिलने वाला पोषिक तत्व शरीर के अलग-अलग अंगो व् सेल्स तक पहुंचाने का काम पानी ही करता है |
  • पानी के द्वारा ही हमारे शरीर में मिनरल्स यानिकि खनिज तत्व , विटमिंस ,इनोएसिड ,गलूकोज का अवशोषण होता है |
  • अगर शरीर में पानी की कमी हो जाए तो हेल्दी और पोषिक तत्वों वाला खाना खाने के बावजूद भी हमारे शरीर को पोषिक तत्व नहीं मिल पाते |
  • इसके अलावा पानी की सबसे महत्वपूर्ण भूमिका हमारे शरीर से गंदगी और टोक्संस को बाहर निकालने की होती है |

2. प्यास लगे तभी पीना चाहिए पानी :-

  • प्यास लगे तभी पानी पीना चाहिए ,लेकिन कुछ लोग इसके बहुत सारे फायदों को जानकर जबरदस्ती या फिर ज्यादा ही पानी पीते है लेकिन विशेषज्ञों का ये कहना है कि प्यास लगने पर ही पानी पीना चाहिए बिना प्यास के पानी पीने से शरीर में पानी की अधिकता हो जाती है जो कि बीमारियों को पैदा कर सकती है |

3. जबरदस्ती पानी पीने के नुकसान :-

  • Disadvantages of drinking too much water : शरीर में पानी की ज्यादा मात्रा हाइपोनेटरीमिया का कारण बनती है|हाइपोनेटरीमिया एक ऐसी समस्या है जिसमे व्यक्ति के खून में सोडियम की मात्रा बहुत कम हो जाती है जिससे बहुत ज्यादा थकान,आलस ,मांसपेशियों में दर्द रहने लगता है इसलिए जरूरी है कि आप तभी पानी पीए जब आपको प्यास लगे प्यास लगने का मतलब यही है कि अब आपके शरीर को पानी की आवश्यकता है लेकिन ये नहीं जब आपको प्यास लगी है आप तब भी पानी नहीं पीएं अगर आप प्यास लगने पर भी पानी नहीं पीयेंगे तो शरीर के अंदर पानी की कमी हो सकती है |

4. कितना पानी पीना है सही :-

Disadvantages of drinking too much water : वैसे तो अलग-अलग व्यक्तियों को पानी की मात्रा अलग-अलग तरह से होती है ये उनके शरीर व् मेहनत पर निर्भर करता है –

महिलाओं को कितनी मात्रा में पानी पीना चाहिए –
  • महिलाओं को 1 दिन में 2.2 लीटर फ्लूड ,पानी या तरल पदार्थ कुछ भी लेना चाहिए |
पुरुषो को कितनी मात्रा में पानी पीना चाहिए –
  • पुरुषो को 3 लीटर फ्लूड ,पानी या तरल पदार्थ लेने चाहिए |

ये थी जानकारी पानी पीने के बारे में |

अगर आप को ये Post अच्छी लगी तो Comment कर के जरूर बताएं और अपने Friends के साथ जरूर शेयर कीजिएगा अगर अभी तक आप ने मेरी Website www.myfitnessbeauty.com को Subscribe नहीं किया है तो Subscribe कर लीजिए तांकि मेरे आने वाले Post के Notification और उसके Updates आप को मिलते रहें |

मिलते है Next Post में तब तक के लिए Good Bye |

दिव्या शर्मा

How to Increase Hemoglobin Treat Anemia Iron Deficiency
Improve Your Immunity Power
Cancer treatment
Sciatica Pain, Joint pain, Heel pain treatment
heel pain treatment

एसिडिटी ख़त्म 3 तरीको सेHow To Get Rids Of Acidity And Gas Problems,How To Stop Acid Reflux,Heartburn

Disadvantages of drinking too much water