Exercise And Treatment For Arthritis And Joint Pain In Hindi

Exercise And Treatment For Arthritis And Joint Pain In Hindi
Exercise And Treatment For Arthritis And Joint Pain In Hindi

Exercise And Treatment For Arthritis And Joint Pain In Hindi : कुछ लोगों को बैठकर उठते समय या फिर सीढ़ियां चढ़ते समय या फिर उतरते समय घुटनों(Knees) के अंदर तेज दर्द(pain) होता है और सारा दिन बना रहता है यह दर्द(pain) और रात के समय तो यह दर्द(pain) और परेशान करता है इनके पीछे तीन से चार मुख्य कारण(reason) है।

इस पोस्ट को शुरू करने से पहले आपको एक बात बताना जरूरी है कि यह पोस्ट नीचे दी गईं वीडियो का लिखित रूप है | जो जानकारी इस वीडियो में दी गईं है वही जानकारी इस पोस्ट में भी दी गईं है |

इस Post की वीडियो को देखने के लिए नीचे Play बटन पर Click करें

कारण(reason):-

  • शरीर(body) में कैल्शियम की कमी
  • कार्टिलेज का घिस जाना
  • कोई गहरी चोट(Deep hurt) आना
  • गलत खानपान(Wrong eating) करना

टेडोनाइटिस:-

  • यह घुटनों(Knees) के आगे वाले हिस्से(part) को प्रभावित करता है|
  • जिससे ज्यादातर सीढ़ियां चढ़ने में परेशानी होती है|
  • दूसरी समस्या(problem) हो सकती है यूरिक एसिड शरीर(body) में बढ़ना|

ओस्टियोआर्थराइटिस:-

बेकर कास्ट:-

  • घुटनों(Knees) के जोड़ों में शिनोवील फ्लूड का निर्माण होता है जो जोड़ों को आपस में रगड़ने से रोकता है|
  • कई बार यह फ्लूड ज्यादा बनने लगता है जिससे घुटनों(Knees) के पिछले हिस्से में सूजन(swelling) आ जाती है और एक बॉल की तरह बन जाता है|
  • जिससे घुटनों में दर्द(Knee pain) रहने लगता है।

बरसाइटिइस:-

  • यह बरसा में सूजन(swelling) आने के कारण होता है|
  • बरसा त्वचा(skin) के नीचे और जोड़ों के ऊपर तरल पदार्थों से भरा हुआ एक थैली(bag) है|
  • यह थैली(bag) हड्डियों(bones) के लिए कुषण का काम करती है।

रूमेटाइड अर्थराइटिस:-

  • इसमें जोड़ों में सूजन(swelling) आ जाती है |
  • व जोड़ आपस में रगड़ खाने लगते हैं चोट लगने पर लिगामेंट के टूटने पर भी दर्द(pain) होता है |
  • लिगामेंट एक तरह के लचीले टिशूज होते हैं दो हड्डियों(bones) के बीच को आपस में जोड़ते हैं|
  • घुटनों(Knees) में जो कुषण होते हैं वह लिगामेंट और कार्टिलेज से जकड़े होते हैं और इन कार्टिलेज में फ्लूड भरा होता है जिसे लुब्रिकेंट कहते हैं|
  • जब घुटनों(Knees) में यह फ्लूट घटने लगता है और कुषण घिसने(Rubbers) लगते हैं तो तेज दर्द घुटनों(Knees) में रहने लगता है|
  • लुब्रिकेंट का घटना बढ़ती उम्र(age) में होता है अगर आप 30 से 40 की उम्र(age) में है और घुटनों(Knees) में दर्द रहता है तो यह शरीर(body) में कैल्शियम और विटामिंस की कमी से होता है|
  • कैल्शियम की कमी से हड्डियां कमजोर(Bones weak) हो जाती हैं जिसके कारण हड्डियों में दर्द(pain in bones) होता है|

विटामिन डी कैल्शियम को अवशोषित(Absorbed) करने का काम करता है साथ ही मांसपेशियों(Muscles) को भी मजबूती देता है|

वात पित्त और कफ की समस्या:-

  • इसके अलावा जिन के घुटनों(Knees) में गैप आ चुका है या शरीर(body) में वात ज्यादा बनती है|
  • शरीर((body) के अंदर की हवा जोड़ों के अंदर जो फ्लूड है उसको सुखा देती है जिसके कारण जब जोड़ हिलते हैं तो आपस में टकराते हैं और दर्द होता है|
  • शरीर(body) में यह सारी की सारी समस्याएं(problem) वात पित्त और कफ इन तीनों चीजों के संतुलन बिगड़ने से होती है|
  • जानते है ऐसे ट्रीटमेंट के बारे में जीससे घिसे हुएघुटनों(Knees)की चिकना हर्ट वापिस लायी जा सकती है।
  • कमजोर हड्डियों को मजबूत बनाया जा सकता है।
  • शरीर(body) में कैल्शियम की कमी को पूरा किया जा सकता है।
  • यूरिक एसिड में हमेशा के लिए नार्मल रखा जा सकता है
  • आप पहले यह जान लीजिये की शरीर(body) में सारी की सारी समस्याएं(problem) शरीर(body) में वात पित्त और कफ ये तीनो चीजों के संतुलन बिगड़ने से होती है|
  • जब हमारे शरीर(body) में वात का संतुलन बिगड़ जाता है तो घुटनों का दर्द(Knee pain) यूरिक एसिड की समस्या ज्वाइंट(reason) पेन की परेशानी यह समस्याएं(problem) हो जाती है|
  • तो हमें इन तीनों चीजों का बैलेंस बनाकर रखना है जिससे यह प्रॉब्लम नहीं हो।
  • सबसे पहले सुबह उठकर बासी मुंहStale mouth) है दो से तीन गिलास गुनगुना पानी(water) पिए|
  • जो हमारी सुबह की लार(Saliva) होती है हमारे वह हमारे अंदर की वात और पित्त इन दोनों को खत्म करने का काम करती है|
  • जब यह पानी के रास्ते हमारे अंदर चली जाती है तो बहुत सी बीमारियां(Diseases) तो ऐसे ही ठीक हो जाती है|
  • खाना खाने के बीच में कभी भी पानी(water) नहीं पिए|
  • खाना खाने के बाद आधे से पौना घंटा बाद पानी(water) पिए|
  • पानी(water) हमेशा बैठ कर और धीरे-धीरे पिए इसके अलावा नहाने के बाद आपने अपने घुटनों पर मालिश(Massage) जरूर करनी है।

Exercise And Treatment For Arthritis And Joint Pain In Hindi : ईलाज:-

  • आपने खजूर(Dates) और दूध(milk) का सेवन करना है|
  • आपने एक गिलास दूध(milk) लेना है उबला हुआ|
  • उसके अंदर आपने दो खजूर(Dates) रात को रख देने हैं भिगोकर और सुबह नाश्ते में आपने इन खजूर(Dates) को खा लेना है|
  • उसके बाद आपने जो एक गिलास दूध(milk) था उसके अंदर आधा चम्मच कलौंजी का जो तेल होता है वह मिक्स करके हल्का सा दूध(milk) को गुनगुना करके आपने पी लेना है|
  • ऐसा करने से घुटनों(Knees) की मांसपेशियां मजबूत होती हैं और घुटनों(Knees) के दर्द में भी बहुत फायदा मिलता है|
  • शरीर(body) में कैल्शियम की कमी पूरी होती है|
  • इस तरह खजूर(Dates) को भिगोकर आप गर्मियों(Summer) में बहुत आसानी से खा सकते हैं|
  • कलौंजी बहुत ही पावरफुल औषधि है|
  • अगर दूध(milk) नहीं आपको पचता या फिर आप लेना नहीं चाहते तो आप इसी चीज को पानी(water) में भिगो दीजिये|
  • और उसी पानी(water) को हल्का सा गुनगुना करके सुबह उसमें आधा चम्मच कलौंजी का तेल मिक्स करके आप पी लीजिए।
  • आपने चार से पांच कालीमिर्च(Black pepper) लेनी है|
  • और उसके साथ आपने दो से तीन मुनक्के(Raisins) ले लेने हैं|
  • और आपने दो अखरोट(Walnut) लेने हैं|
  • इन तीनों चीजों को आपने शाम को पानी(water) में भिगोकर रख देना है|
  • और रात के समय इन्हें पानी(water) में से निकाल कर इनका पेस्ट तैयार कर लेना है|
  • और गुनगुने दूध(milk) में मिक्स करके रात को पी लेना है|
  • लगातार आपने 45 दिन इस दूध(milk) को पीना है यह घुटनों(Knees) के ग्रीस को बढ़ाने के लिए बहुत फायदेमंद है|
  • अखरोट(Walnut) के अंदर विटामिन E कार्बोहाइड्रेट विटामिन B सिक्स कैल्शियम और ओमेगा 3 फैटी एसिड होता है जो हमारे घुटनों(Knees) के लिए बहुत जरूरी है|
  • इसके अलावा इसमें जो ओमेगा 3 फैटी एसिड पाया जाता है वह शरीर(body) में आई सूजन को भी दूर करता है।
  • आपने एक गिलास पानी(water) लेना है|
  • उसके अंदर आपने दो चुटकी हल्दी पाउडर(Turmeric Powder) मिक्स कर देना है|
  • दो चुटकी आपने सोंठ पाउडर(Dry gourd powder) मिक्स कर देना है|
  • आपने सुबह गुनगुना पानी(water) करके इस पानी(water) को बासी मुंह(Stale mouth) पी लेना है|
  • आपने 2-2 चुटकी से ज्यादा हल्दी या सोंठ का इस्तेमाल नहीं करना क्योंकि इनकी तहसीर गर्म होती है|
  • और गर्मियों(Summer) में इससे ज्यादा इनका सेवन नहीं किया जाता|
  • यह घुटनों(Knees) के तेज दर्द को खत्म करता है|
  • यूरिक एसिड अगर बढ़ा हुआ है तो उसमें भी बहुत फायदेमंद है|
  • गठिया की समस्या को दूर करता है|
  • जोड़ों के दर्द या उनकी सुजन को भी दूर करता है|
  • उनके लिए यह काफी फायदेमंद है जो लोग वात की समस्या को फेस कर रहे हैं|
  • जो पहला आपको खजूर वाला उपाय बताया था और जो दूसरा अखरोट वाला बताया था इन दोनों में से आपने एक उपाय को करना है|
  • आप एक दिन दूध वाला इलाज और 1 दिन खजूर वाला इलाज भी कर सकते हैं या फिर रेगुलर आप(problem) एक ही इलाज(treatment) को कर सकते हैं|
  • और जो हल्दी और सोंठ वाला उपाय है वह आपने सुबह उठकर जरूर करना है|

कच्चे नारियल का पानी:-

  • जिनको भी घुटनों((Knees)की समस्या(problem) है उनको कच्चे नारियल का पानी(water) पीना बहुत फायदेमंद है|
  • सुबह उठकर आप इसका सेवन कीजिए या दिन में आप कभी भी खाली पेट(empty stomach) इसका सेवन कर सकते हैं|
  • यह घुटनों((Knees) में लचीलापन लाता है और शरीर(body) में से वात को दूर करता है|
  • अगर आपको कच्चा नारियल नहीं मिल रहा तो आप सूखे नारियल का एक टुकड़ा ले लीजिए|
  • और उसे चबा चबा कर खा लीजिए|
  • सूखे नारियल का रोजाना इस्तेमाल करने से भी शरीर(body) में फ्लैक्सिबिलिटी बढ़ती है।

तेल कैसे तैयार करें:-

  • आप 100 ग्राम सरसों का तेल(mustard oil) ले लीजिए|
  • उसमें दो चम्मच अजवाइन(celery) एक चम्मच लॉन्ग और तीन से चार कली लहसुन(Garlic) की डालकर इसको आपने हल्का हल्का गर्म कर लेना है|
  • और इसी तेल से आपने रोजाना अपने घुटनों(Knees) की मालिश(Massage) करनी है|

मालिश कैसे करे:-

  • आपने घुटनों(Knees) के ऊपर और घुटनों(Knees) के पीछे इसके अलावा घुटनों(Knees) का जस्ट knee वाला पार्ट होता है|
  • इससे आपने 5 फिंगर ऊपर और 5 फिंगर नीचे और ऐसे ही पीछे यानी ऊपर और नीचे दोनों तरफ आपने मालिश(Massage) करनी है बहुत हल्के हाथों से।

मालिश(Massage) करने का तरीका:-

  • आपने हथेली को दबाकर या फिंगर को दबाकर मालिश(Massage) नहीं करनी|
  • आपने जस्ट ऑयल को लगाना है और नहाने के बाद ही यह करना है|
  • जब हम नहाते हैं और जो जो हमारी बॉडी के पोरस होते हैं वह खुल जाते हैं|
  • जब आप तेल(oil) की मालिश(Massage) करेंगे तो आपको इससे बहुत फायदा होगा|
  • सूजन(swelling) को दूर करने के लिए और दर्द(pain) को दूर करने के लिए।

ये थी जानकारी घुटनों(Knees) के दर्द को कैसे ठीक करे|


अगर आप को ये Post अच्छी लगी तो Comment कर के जरूर बताएं और अपने Friends के साथ जरूर शेयर कीजिएगा अगर अभी तक आप ने मेरी Website www.myfitnessbeauty.com को Subscribe नहीं किया है तो Subscribe कर लीजिए तांकि मेरे आने वाले Post के Notification और उसके Updates आप को मिलते रहें |

मिलते है Next Post में तब तक के लिए Good Bye |

दिव्या शर्मा

Our Other Posts
Disadvantages of drinking too much water
Treatment For Sinus
How to Increase Hemoglobin Treat Anemia Iron Deficiency
Improve Your Immunity Power
Sciatica Pain, Joint pain, Heel pain treatment