Home remedy to cure knee pain and body diseases in Hindi

Home remedy to cure knee pain and body diseases
Home remedy to cure knee pain and body diseases

आज हम आप बताएंगे घुटनों के दर्द व् शरीर से वात रोग बाहर करने का घरेलू इलाज(Home remedy to cure knee pain and body diseases) के बारे में | अगर आपको भी जोड़ों में दर्द रहता है | घुटनों में दर्द रहता है | मसल में दर्द रहता है | पूरी टांग में दर्द रहता है यानी की नसों से संबंधित कोई भी समस्या हो | अगर आपके शरीर में बहुत ज्यादा बात बनती है | आपको गले से संबंधित कोई भी समस्या है | आपको टॉन्सिल बहुत जल्दी हो जाता है | गला बहुत ज्यादा दर्द करता है | छाती में बलगम जमती है | हमने इन सब चीजों का इलाज कैसे करना है | आज हम इस पोस्ट में आपको बताएंगे – गिलोय परिजात और मेथी दाने का सबसे बड़े फायदे क्या है | तो चलिए जानते हैं इनके बारे में –

इस पोस्ट को शुरू करने से पहले आपको एक बात बताना जरूरी है कि यह पोस्ट नीचे दी गईं वीडियो का लिखित रूप है | जो जानकारी इस वीडियो में दी गईं है वही जानकारी इस पोस्ट में भी दी गईं है |

इस Post की वीडियो को देखने के लिए नीचे Play बटन पर Click करें

1. परिजात पौधा :-

Home remedy to cure knee pain and body diseases - Parijat plant - image - 1

परिजात पौधे को खरीदने के लिए यहां क्लिक करें :-


  • परिजात को हार सिंगार भी कहा जाता है |
  • लेकिन इसे रात की रानी नहीं कहा जाता |
  • जिनकी भी टांगों में बहुत ज्यादा दर्द रहता है अगर टांग की नस दबती है यानी कि आप साइटिका की समस्या से ग्रस्त हैं |
  • आपको चलने फिरने में भी दिक्कत आती है कमर दर्द बहुत ज्यादा होता हैं |
  • आप की नसों में दर्द रहता है दर्द के कारण चलना फिरना उठना बैठना यहां तक कि सोते समय करवट लेना भी बहुत मुश्किल हो जाता है |
  • तो इन सभी समस्याओं में परिजात पौधे का सेवन करना चाहिए |
  • अगर आपको साइटिका की समस्या है आप की नस दबती है आपने परिजात पौधे की पत्तियों का सेवन करना है |

2. गिलोय :-

गिलोय जूस को खरीदने के लिए यहां क्लिक करें :-

  • जिनको जोड़ों में कितना भी दर्द रहता है यानी कि अर्थराइटिस की कितनी भी समस्या है |
  • घुटनों में बहुत ज्यादा दर्द रहता है यानी कि आपको ओस्ट्युपोरस की समस्या है |
  • शरीर के अंदर बुरा कोलेस्ट्रॉल बढ़ता है |
  • इन सब लोगों को रोजाना गिलोय का सेवन जरूर करना चाहिए |
  • गिलोय एक ऐसी औषधि है जिन्हें हड्डियों से संबंधित कोई भी समस्या हो चाहे तो हड्डियों में कैल्शियम की कमी हो |
  • चाहे तो हड्डियों के अंदर सायनोवियल फ्लुएड की कमी हो उन लोगों ने गिलोय का सेवन रोजाना करना है |
  • गिलोय का सेवन करने से हमारे शरीर के हर एक जोड़ में सायनोवियल फ्लुएड पैदा होता है |
  • जिन लोगों का खून साफ नहीं है या फिर शरीर में खून की कमी है |
  • उन लोगों के लिए भी गिलोय का सेवन करना बहुत फायदेमंद है |
  • जिन लोगों के शरीर में वायु बहुत ज्यादा बनती है वायु ज्यादा बनने के कारण घुटनों में दर्द होता है जोड़ों में दर्द रहता है |
  • तो आपको गिलोय का सेवन जरूर करना चाहिए |
  • अगर आपके अंदर तेजाब बहुत ज्यादा बनता है तो उन लोगों ने भी गिलोय का सेवन जरूर करना है |
  • अगर आपको खांसी बहुत ज्यादा होती है गला खराब रहता है तब भी आपने गिलोय का ही सेवन करना है |

3. मेथी दाना :-

Home remedy to cure knee pain and body diseases - Fenugreek seeds - image -2

मेथी दाना खरीदने के लिए यहां क्लिक करें :-

  • मेथी दाना हमारे शरीर के अंदर डायबिटीज को नियंत्रण रखता है |
  • हमारे शरीर का वजन घटाने का काम करता है |
  • मेटाबॉलिज्म को फास्ट करता है और शरीर को अनर्जी देता है | 
  • घुटनों के दर्द को दूर करता है जोड़ों के दर्द को दूर करता है |
  • जोड़ों के अंदर कैल्शियम की कमी नहीं होने देता |
  • जिन लोगों के अंदर पित्त ज्यादा बनता है उन लोगों ने मेथी दाने का सेवन नहीं करना |
  • अगर आपका गला खराब रहता है अस्थमा की समस्या है डायबिटीज की समस्या है |
  • तो मेथी दाने का सेवन जरूर करें |

कैसे वह कितनी मात्रा में करें इनका सेवन :-

गिलोय का सेवन कैसे व कितनी मात्रा में करें –

  • तीन चम्मच गिलोय का जूस लेना है उसे आधा गिलास पानी में मिक्स करके सुबह खाली पेट पी लेना है |
  • अगर आपको घुटनों में दर्द जोड़ों में दर्द की समस्या ज्यादा है |
  • तो आप दिन में दो बार गिलोय जूस का सेवन करना है |
  • एक सुबह खाली पेट दूसरा शाम को 4 से 5 के बीच करना है |

परिजात का सेवन कैसे व कितनी मात्रा में करें –

  • आपने पांच से 6 पत्ते परिजात के लिए लेने हैं आपने इसकी चटनी बना लेनी है |
  • उसके बाद आपने इसे एक गिलास पानी में डाल कर उबाल लेना है और फिर इसे ढककर रात को रख देना है |
  • सुबह इसे हल्का सा गुनगुना करके और छानकर सुबह खाली पेट पी लेना है |
  • एक बात का ध्यान रखें आपने इसका सेवन सुबह फ्रेश होने के बाद ही खाली पेट करना है |

मेथी दाने का सेवन कैसे व कितनी मात्रा में करें –

  • आपने रात को एक गिलास पानी के अंदर एक चम्मच मेथी दाने को भिगो कर रख देना है |
  • सुबह आपने पानी भी पी लेना है और मेथी दाने को भी खा लेना है |
  • कुछ लोग कहेंगे क्या हम गर्मियों में मेथी दाने का सेवन कर सकते हैं |
  • आपको बता दें अगर आप के शरीर का तापमान ठंडक प्रवृत्ति का है तो आप मेथी दाने का सेवन कर सकते हैं |
  • अगर आपका शरीर गर्म रहता है तो आप गर्मियों के दिनों में मेथी दाने का सेवन ना करें पानी पी सकते हैं |
  • जिन लोगों का तापमान सामान्य रहता है उन लोगों ने दिन में एक चम्मच जीरे को एक गिलास पानी के अंदर भिगो कर रख देना है |
  • 3 घंटे के बाद उसको गर्म करके उबालकर ठंडा करके पी लेना है |
  • ऐसा करने से मेथी दाने की गर्मी आपके शरीर को नहीं मिलेगी |

ये थी जानकारी घुटनों के दर्द व् शरीर से वात रोग बाहर करने का घरेलू इलाज के बारे में |

अगर आप को ये Post अच्छी लगी तो Comment कर के जरूर बताएं और अपने Friends के साथ जरूर शेयर कीजिएगा अगर अभी तक आप ने मेरी Website www.myfitnessbeauty.com को Subscribe नहीं किया है तो Subscribe कर लीजिए तांकि मेरे आने वाले Post के Notification और उसके Updates आप को मिलते रहें |

मिलते है Next Post में तब तक के लिए Good Bye |

नीचे दिए गए सभी कारणों से इस पोस्ट को पढ़ा जा सकता है :-

  • ghutno ka drd
  • Sciatica pain treatment
  • jodo me drd ka ilaj
  • Dabi naso ka ilaj
  • sciatica pain relief
  • jodo ka dard,Dabi Nas
  • ghutno ka drd
  • jodo ka drd
  • Dabi nas ka ilaj
  • methi dana ke fayde
  • giloy ke fayde
  • giloy ka kadha kaise banaye
  • 2 हफ्ते ले लो पारिजात
  • गिलोय व मेथी के फायदे
  • Knee Pain treatment
  • Muscle Pain treatment
  • Parijat
  • Giloy And Methi Benefits

दिव्या शर्मा