Treatment for Bones strong

Treatment for Bones strong
Treatment for Bones strong

दोस्तों अब सर्दियों का मौसम आ रहा है तो ज्यादातर यह तीन समस्या लोगों को झेलनी पड़ेगी | सबसे पहली है शरीर का दर्द | दूसरा है हड्डियों से संबंधित कोई समस्या या जोड़ों से संबंधित कोई समस्या हो जाना | तीसरी है नसों से संबंधित समस्या, नसों में दर्द होना ऐठन आ जानी | आज हम इन तीनों समस्याओं का हड्डियों की मजबूत (Bone strong) बनाने से संबंधित, नसों से संबंधित, शरीर के दर्द से संबंधित इलाज के बारे में बताएंगे | इस पोस्ट में हम आपको एक आसान सा इलाज बताने जा रहे हैं | इलाज में आपको एक नुस्खा बताया जाएगा जिस नुस्खे की खास बात यह है कि उसे लेने की कोई उम्र सीमा नहीं है यानी कि उसे बच्चों से लेकर बूढ़ों तक कोई भी इंसान ले सकता है | यह बहुत ही साधारण सा है और इसका कोई भी दुष्परिणाम नहीं है |

अगर आपके आपकी हड्डिया बहुत कमजोर है, हड्डी दर्द करती हैं और आपके डॉक्टर ने यह बोल दिया है कि आप कैल्शियम की दवाई खाई है | अगर आपके हाथ पैर सोते हैं, नंबनेस की समस्या है, जोड़ों में, घुटनों में बहुत दर्द होता है | आपको थकान बहुत ज्यादा महसूस होती है या फिर आपका चेहरा बहुत ज्यादा ढीला पड़ रहा है | इसके अलावा अगर आपके नाखून बहुत कमजोर पड़ रहे हैं या आपको ऑस्टिन प्रोसेस की समस्या हो चुकी है | इन सभी समस्याओं का एक ही रामबाण इलाज है जो नुस्खा हम बताने जा रहे हैं | इस नुस्खे को बनाने के लिए हमें तीन चीजों की जरूरत पड़ेगी तो चलिए जानते हैं उन चीजों के बारे में |

इस पोस्ट को शुरू करने से पहले आपको एक बात बताना जरूरी है कि यह पोस्ट नीचे दी गईं वीडियो का लिखित रूप है | जो जानकारी इस वीडियो में दी गईं है वही जानकारी इस पोस्ट में भी दी गईं है |

इस Post की वीडियो को देखने के लिए नीचे Play बटन पर Click करें

हड्डियों को मजबूत बनाने के लिए उपचार – Treatment for Bone strong

1. गुड़ –

गुड़ हमारे शरीर के लिए इतना फायदेमंद है कि आप सोच भी नहीं सकते कि गुड़ को खाने के इतने सारे फायदे मिल सकते हैं | उदाहरण के लिए आपको बता दें किसी दिन अगर आपने ज्यादा खाना खा लिया यानी कि पेट भर कर खाना खा लिया और पेट को अफारा आ गया है तो आप छोटा सा टुकड़ा गुड़ का खा लीजिए तो तुरंत आप देखेंगे कि आपका खाना जल्दी से पचने लगेगा | आपको पेट में आराम महसूस होगा |

अगर आप उसी समय गुड़ की जगह चीनी का सेवन करते हैं तो चीनी आपको नुकसान देगी | वह आपके पेट में गैस बनाएगी | गुड़ खाने से शरीर की कमजोरी दूर होती है | शरीर से चुस्ती-फुर्ती आती है | गुड़ के अंदर पोटेशियम, कैल्शियम, आयरन भरपूर मात्रा में होता है | गुड़ के अंदर पाए जाने वाला आयरन हमारे शरीर के अंदर खून की कमी नहीं होने देता |

2. सोंठ का पाउडर –

यह अदरक का सूखा हुआ भाग होता है यानी कि अदरक को सुखाकर बनाई जाती है | अगर आप चाहें तो अदरक भी ले सकते हैं क्योंकि अदरक और सोंठ का पाउडर एक जितना ही फायदा करेगा | यह शरीर में गर्माहट पैदा करती है | इसमें anti-inflammatory होती है जो शरीर की सूजन को दूर करती है | अगर किसी को जोड़ो में दर्द, गठिया की समस्या, घुटनों में दर्द की समस्या है तो उसे सोंठ का पाउडर का सेवन औषधि के रूप में करना चाहिए |

3. गांठ वाली हल्दी –

यह हल्दी ना तो हमारे शरीर में कैल्शियम की कमी होने देगी और ना ही हमारे शरीर में वायु को पैदा होने देगी | यह वात रोग को जड़ से खत्म करती हैं | एक रिसर्च में यह पता चला है कि जिनको गठिया की समस्या, आर्थराइटिस की समस्या है उन्हें गांठ वाली हल्दी का सेवन दूध के अंदर डालकर करना चाहिए | इसमें एंटी ऑक्सीडेंट, विटामिन, आयरन भरपूर मात्रा में होता है | हल्दी का सेवन इम्यूनिटी पावर बढ़ाने के लिए किया जाता है |

नुस्खे को कैसे करें तैयार –

आपने गांठ वाली हल्दी व सोंठ का पाउडर दोनों का पाउडर बना लेना है | उसके बाद आपने गैस पर एक बर्तन रख देना है और गैस को चालू कर देना है | उसके अंदर आप एक गिलास दूध डालिए | आधा चम्मच सोंठ का पाउडर डाल देना है | आधा छोटा चम्मच ही आपने हल्दी का डाल देना है | उसके बाद आपने दूध को उबाला देना है जब दूध गर्म हो जाए तो आप इसे गिलास में डाल दीजिए | जब गुनगुना हो जाए तब इसके अंदर आप थोड़ा सा गुड़ मिक्स कर दीजिए यह आपका नुस्खा तैयार हो गया |

सेवन कब करें –

नाश्ते के आधा घंटा बाद आपने इसका सेवन करना है | वैसे तो आप इसको पूरी सर्दियां सेवन कर सकते हैं इसका कोई भी नुकसान नहीं है | अगर आप इसे ज्यादा लंबे समय तक नहीं लेना चाहते तो आप इसका सेवन कम से कम एक महीना तो जरूर करें | अगर आप नाश्ते के समय इसका सेवन नहीं करना चाहते तो आप रात को सोते समय इसका सेवन कर सकते हैं |

इसके 1 महीने के सेवन के बाद आपको पता चल जाएगा कि आपके घुटनों के अंदर जो ग्रीस खत्म हो चुकी थी, आपके घुटनों से कट कट की आवाज आती थी, सीढ़ियां चढ़ने में समस्या होती थी, स्टैमिना की कमी आ गई थी, ताकत की कमी हो गई थी | तो वह सब समस्याएं 1 महीने के अंदर ठीक हो जाएगी |

ये थी जानकारी हड्डियों को मजबूत बनाने के लिए उपचार के बारे में |

अगर आप को ये Post अच्छी लगी तो Comment कर के जरूर बताएं और अपने Friends के साथ जरूर शेयर कीजिएगा अगर अभी तक आप ने मेरी Website www.myfitnessbeauty.com को Subscribe नहीं किया है तो Subscribe कर लीजिए तांकि मेरे आने वाले Post के Notification और उसके Updates आप को मिलते रहें |

मिलते है Next Post में तब तक के लिए Good Bye 

इस पोस्ट की YouTube वीडियो देखने के लिए यहाँ क्लिक करें

नीचे दिए गए सभी कारणों से इस पोस्ट को पढ़ा जा सकता है :-

दिव्या शर्मा