Ayurvedic Viagra Silapak ke fayade : silapak benefits

image Shila paak ke fayde
image Shila paak ke fayde

Ayurvedic Viagra  शिलापाक के फायदे :

Viagra से तो कई गुना बेहतर है शिलापाक 

दोस्तो Shilapak एक ऐसी बेहद ही फायदेमंद औषधि है कि इनके फायदों पर तो एक पूरी किताब लिखी जा सकती है, फिर भी मै आपको यहाँ short में कुछ बता देता रहा हु….  

शिला पाक नामर्दानगी तो जड से दूर करता ही है , इसके साथ ही shilapak शुक्राणु वृद्धि में भी सहायक सिद्ध होता है। इसे खाने से प्रजनन क्षमता , Fertility, inner strength बढ़ जाती है, इससे इंसान कामोत्तेजित हो जाता है, जोश से भरपूर, कामुक और मतवाला हो जाता है, वह sexual  रूप से काफी शक्तिशाली हो जाता है , इसके साथ साथ  कई सामान्य यौन रोगों  जैसे  जिनमें बांझपन, शीघ्रपतन और स्तंभन दोष, लिंग में तनाव की कमी आदि में shilapak बहुत ही फायदेमंद है 

उसके अलावा भी इसके बहुत से फायदे है , ये आपको healthy रखने के साथ साथ  आपकी रोगो से लड़ने के क्षमता यानि की Imunity बढ़ता है , जिस से शरीर में मोजूद कई तरह की बिमारिया तो खुद ब खुद दूर हो जाती है , जो लोग दुबले पतले है ? उनके वजन को बढाकर उनके शरीर को मजबूत और सुढोल करता है ,  शिला पाक खाने से आपके चहरे की त्वचा पर एक glow या चमक आती है , झुरिया वेगेरा कम होती है  , शिला पाक  आपके एनर्जी लेवल को बढ़ता है , जिस से आप पुरे दिन उर्जावान महसूस करते है , थकान और आलस्य दूर होता है ! शरीर में जरूरी विटामिंस और न्यूट्रिशन की पूर्ति करता है !

क्या कमाल की चीज बनाई है, मैने देखा तो मै रोक नहीं पाया खुद को इस के बारे में विडियो बनाने के लिए, 

मै आज किसी अन्य topic पर विडियो बनाने वाला था, पर वो छोड़ कर मै इस पर Post बना रहा हु… तो आप समझ सकते है यह कितनी लाजवाब product है 

आज हम बात करने वाले है sexual problem या गुप्त रोगों  के world famous product shilapak के बारे में …. 

यकीनन इसे आजमाने के बाद आपका भी आयुर्वेद पर विश्वास ओर मज़बूत हो जाएगा। शिला पाक की उपयोगिता इसी बात से समझी जा सकती है कि  इन जड़ी बूटियों को खुद राजा महाराजा और आयुर्वेद के महान ज्ञाता भी हजारो सालो से  use करते आये है 

इस से पहले की हम शिला पाक  के आश्चर्य जनक  फायदों को गहराई से समझे, उस से पहले मै आपको शिला पाक का इतिहास बता देता हु…

लगभग 2400 साल पहले, हमारे भारत के  तक्षशिला  में  एक महान इंसान का जन्म  हुआ था , जिनका नाम था चरक,  आयुर्वेद के ज्ञाताओ का मानना है उस समय दुनिया में ऐसा कोई doctor या वैज्ञानिक नहीं था जो चरक को ज्ञान के मामले में टक्कर दे सके, 

प्राकृतिक जड़ी बूटियों  और मानव  स्वास्थ्य के गहन अध्यन और इनसे  बहुत से लोगो का  इलाज करने के बाद महर्षि  चरक ने एक ग्रन्थ लिखा जिसका नाम है :  Charaka Samhita

आज हम जिस शिला पाक की बात कर रहे है, और उस में जो जडीबुटीया use हुई है, उनमे से अधिकांश जड़ी बूटियों का महिमा मंडन महान आचार्य चरक ने अपने ग्रन्थ में किया है

दुनिया के सबसे बड़े ज्ञानकोष विकिपीडिया के माने तो  Charaka Samhita ग्रन्थ  को अरबी देशो और पश्चिमी देशों  ने भी भरपूर  इस्तमाल किया है, 

कुल मिला कर मै आपको ये बता रहा हु…. जिस शिला पाक के बारे में हम आज बात कर रहे है, उन जड़ी बूटियों का सिर्फ मै ही नहीं पूरी दुनिया दीवानी है…. और वो भी हजारो सालो से  

अब यह तो आप भी जानते हो जब यह शुद्ध natural औषधियों से बन रहा है तो जायज सी बात है इसके कोई side effect भी नही है । इसलिए किसी भी कम्पनी के डिब्बा बंद product जिसमे हमे पता नहीं क्या क्या मिला है …. उसे इस्तमाल करने से तो यह कई गुना ज्यादा बेहतर है 

शिलापाक कितना लाजवाब है इसे हम एक दुसरे उदाहरण से समझते है …. 

अब हम बात करे हमारे प्राचीन भारत के और सम्भवतया दुनिया के पहले expert सर्जन की, सर्जन जानते हो न किसे बोलते है ? वही जो इंसानों  के किसी भी अंग में यदि कोई problem हो जाये तो उसे चिर फाड़ के उस अंग की रिपेयरिंग कर के उसे वापस सही सलामत शरीर में  फिट कर दे …. ख़ुशी और गर्व की की बात तो ये है न की जब दुनिया सर्जन का spelling नहीं जानती थी तब हमारे हिंदुस्तान में ऐसे महान सर्जन पैदा हुए और उन्होंने अपने जीवन काल में न जाने कितने ही successful  ऑपरेशन किये , गहन अध्यन कर के उन्होंने मानव शरीर की संरचना को बारीकी से समझा और फिर एक ग्रन्थ लिखा… जिसका नाम है Sushruta Samhita,  और उस महान ऋषि का नाम था Sushruta

इस Sushruta Samhita में भी शिला पाक बनाने में  use हुई कुछ जडीबुटीयो के बारे बहुत अच्छे से बताया गया है की वो किनती महत्वपूर्ण और मानव स्वास्थ्य के लिए कितनी उपयोगी है 

एक बात और बता देता हु…. चरक सहिंता और  Sushruta Samhita में शिला पाक में use हुई  अशवगंधा और अन्य जड़ी बूटियों  के बारे में  में बताया गया है,  न की  शिला पाक के बारे में, शिला पाक उन्ही जडीबुटीयो का इस्तमाल कर के ज्यादा improvement के साथ बनाया गया formulations है जो अलग अलग अशवगंधा सतावर कौंच और शिला मूल को use करने से कई गुणा ज्यादा बेहतर है 

आपके मन में आ रहा होगा की मै कब से शिला पाक – शिला पाक बोल रहा हु आखिर ये शिला पाक भला क्या है.

दोस्तो शिला मतलब होता है चट्टान और पाक short form है पकवान …. मतलब एक ऐसा पकवान जो शरीर को चट्टान की तरह मजबूत बना दे… उसे शिला पाक कहते है….. शिला पाक मर्दाना कमजोरी, sexual problem का लाजवाब इलाज है 

पर शिलापाक बनता कैसे है… कहा मिलता है… ये भी आपका जानने का मन कर रहा होगा ना ? 

ये बहुत ही आसान है… आप घर पर भी बना सकते हो….ये बहुत ही effective 4 जड़ी बूटियों से मिल कर बना है जिनके नाम है 

1. अशवगन्धा 

2. शतावर 

3. शिलामूल ( जो की सबसे ज्यादा महत्वपूर्ण भी है )

4. कौंच बीज 

ये चारो आपको आसानी से market में मिल जाएगी…. आपको इन चारों  जड़ी बूटियों  को बारीक कुट कर इनका पाउडर बनाना है और उन्हें मिक्स करना है और सुबह शाम एक एक चम्मच पानी के साथ इसका इस्तेमाल करना है।खाना खाने से एक घंटे पहले या एक घंटे बाद 

जो लोग घर पर कुटना पिसना पसंद नहीं करते या जिन्हें इन जड़ी बूटियों के बारे में इतना ज्ञान नहीं है वो लोग शिला पाक amazon, vedJi.com या अपनी किसी भी fevorite shopping site से खरीद सकते है

अगर आप खुद शिला पाक घर पर बनाना चाहते है  तो आपको ये जड़ी बूटियां बाजार से आसानी से मिल जाएँगी |  शिला पाक बनाना बहुत ही आसान है | समान मात्रा में चारों जड़ी बूटियों को मिला लें और स्वाद अनुसार मिश्री मिला दें |

शिलापाक को खरीदने के लिए यहां क्लिक करें : https://amzn.to/2VFzFOc

महिलाएं शिलापाक को खरीदने के लिए यहां क्लिक करें : https://amzn.to/3klTuVa

बिना कौंच वाले शिलापाक को खरीदने के लिए यहां क्लिक करें : https://amzn.to/3B9Rci0

ये चारो जड़ी बूटिया इतनी ज्यादा अच्छी है की इनके बारे में मेरा कुछ और बताने का मन कर रहा है…. आपकी इजाजत हो तो बता दू ?

हमने आपको महर्षि चरक और महर्षि सुश्रुत का example देकर हजारो साल पहले के द्वापर युग, सत युग के बारे में बताया 

अब हम बात करने जा रहे है आज के युग की आयुर्वेदिक दवाइयों के बारे में…

लगभग  90% ताकत और गुप्त रोगों की आयुर्वेदिक दवाइयों में  इन्ही चारो जड़ी बूटियों में से कोई न कोई use हुई है ,

अब सोचने वाली बात है  जब ये चारो अलग अलग इतनी पावरफुल है तो जब ये चारो मिल बैठेगी तो तूफान ला देगी मर्दाना ताकत का शरीर में 

अब हम बात करते है की शिला पाक को किसे  नहीं खाना :  –

  1. प्रेग्नेंट औरत और स्तनपान कराने वाली महिलाए इस्तमाल ना करे , 
  2. अन्य किसी दवाईयो के साथ इस्तमाल ना करे 
  3. अल्सर वाले  खाली पेट shilapak का इस्तमाल ना करे, वो इसे खाना खाने के बाद ही use करे 
  4. जिन लोगो को बवासीर की समस्या हो उन्हें कौंच बीज का सेवन नहीं  करना फायदेमंद रहेगा  , तो उनके लिए ये बेहतर होगा की वो बिना कौंच वाला Shila Pak खरीदे , इसके लिए आप ऑनलाइन वेबसाइट पर Shila Pak Without Kaunch  सर्च करे ,

Shila Pak एक तरह से ayurvedic viagra है जोआपकी Sex से जुड़ी सभी प्रकार की समस्याओं को दूर करने के साथ साथ आपको powerfull बनाने के लिए सर्वाधिक बिकने वाली और अत्यधिक प्रभावकारी एकमात्र औषधि है।

हम आपको यकीन दिलाते हैं की इससे बेहतरीन ओर उम्दा Product आपको Market में कहीं नही मिलेगा।

हम फिर से यही कहते है यकीनन इसे आजमाने के बाद आपका आयुर्वेद पर विश्वास ओर भी मज़बूत हो जाएगा।

और मेरी तरह आप भी मानते है की हिन्दुस्तानी आयुर्वेद अंग्रेजी दवाइयों से ज्यादा अच्छा होता है तो Post को like करे……. सुना है ज्ञान बाटने से बढाता है… मैंने आपको share किया अब आपकी बारी है…. आपका कोई friend भी गुप्त रोगों से परेशान है तो ये Post उसे जरुर share करे. किसी की जिन्दगी आपकी वजह से सवरती है तो यकीन मानो सामने वाले की दिल से आपके लिए दुआ निकलती है 

Is Post per jo video bni hui hai usko dekhne ke liye yahaan click karen


About admin 81 Articles
Hello Friends,My name is Divya Sharma. Welcome to my blogging site. I have created this site specially for those who are very conscious about their health, fitness and looks. I post information regarding good health, increase looks. Our goal is to spread information of how to remain healthy and look beautiful always.For any queries, please write your comments. Our team will answer you queries.Stay Healthy, Always Be HappyThanks for your timeGood Bye