Back Pain treatment | sciatica in Hindi

Back Pain treatment sciatica
Back Pain treatment sciatica

आज हम आपको बताने जा रहे हैं कमर दर्द(Back pain) के इलाज(treatment) बारे में | किसी की नस दबती है या फिर कमर में बहुत ज्यादा सूजन रहती है | क्योंकि बहुत सारे लोग ऐसे हैं जो कमर दर्द(Back pain) से परेशान हैं | चाहे तो आपने गलत पोजीशन में सो लिया या फिर आप गलत पोजीशन में खड़े हो गए | इसके अलावा अगर आपने ज्यादा वजन उठा लिया कमर दर्द(Back pain) रहने लग गई | जिसके कारण धीरे-धीरे साइटिका(sciatica) में बदल गया |

आज हम इस पोस्ट में जो तरीका बता रहे हैं वह इतना पावरफुल है ज्यादातर आयुर्वेद उपचार में इसका इस्तेमाल किया जाता है | सबसे पहले हम आपको बता दें किसी भी दर्द को दूर करने के लिए हमारे शरीर में जितनी भी सूजन है उसको दूर किया जाए सूजन को दूर करने के लिए आपने क्या करना है और इलाज(treatment) कैसे करना है इस पोस्ट में जानेंगे |

(और पढ़ें – कमर दर्द का घरेलू इलाज)

इस पोस्ट को शुरू करने से पहले आपको एक बात बताना जरूरी है कि यह पोस्ट नीचे दी गईं वीडियो का लिखित रूप है | जो जानकारी इस वीडियो में दी गईं है वही जानकारी इस पोस्ट में भी दी गईं है |

इस Post की वीडियो को देखने के लिए नीचे Play बटन पर Click करें

कमर दर्द साइटिका में कैसे बदलता है – How does back pain change in sciatica

  • हमारी रीड की हड्डी होती है | उसमें छल्ले बने हुए होते हैं |
  • हर एक छल्ले में से पतली पतली नसें निकलती है |
  • जो आगे जाकर आपस में जुड़ जाती हैं और एक साइटिका की नस का निर्माण करती है |
  • यह जब अपने जगह से हिल जाते हैं या बाहर निकल जाते हैं तब यह नस को दबा देते हैं |
  • जिसके कारण साइटिका की नस में ब्लड और ऑक्सीजन की सप्लाई सही से नहीं हो पाती |
  • जिसके कारण कमर दर्द(Back pain), साइटिका में बदल जाता है |
  • जो तरीका हम आज आपको बताने जा रहे हैं वह कभी भी कमर दर्द(Back pain) को साइटिका में नहीं बदलने देगा |
  • नस जो दब चुकी है उसको सही करेगा | मांसपेशियों को ताकत देगा |
  • जो भी लोग कमजोरी महसूस करते हैं उनके लिए भी यह बहुत फायदेमंद है |

(और पढ़ें – मांसपेशियों के दर्द का घरेलू उपचार)

आपने सबसे पहले सूजन के लिए बात करेंगे | सूजन के लिए गर्मियों के दिनों में किस चीजों का इस्तेमाल किया जाता है | सबसे बढ़िया चीज वह है –


कमर दर्द व् साइटिका दर्द में गिलोय के फायदे – Benefits of Giloy in back pain | sciatica pain –

  • आपने गिलोय की बेल का 3 से 4 इंच का टुकड़ा ले लेना है उसे अच्छे से कूट लेना है |
  • एक गिलास पानी में ढककर 3 घंटे के लिए रख दीजिए |
  • उसके बाद गिलोय के टुकड़े को अपने हाथ से मसलकर उस पानी को छानकर पी लीजिए |
  • हमारे शरीर में जितनी भी वात यानी वायु है उसको दूर करेगा |

(और पढ़ें – गिलोय के जूस के फायदे)

हमारी सोच –

  • कोई ना कोई इंसान गलत पोजीशन में सो जाता ही है | गलत पोजीशन में समान उठा लेता है |
  • लेकिन हम यह सोचते हैं हर एक इंसान की कमर दर्द(Back pain) क्यों नहीं होती |
  • मेरी ही क्यों हो रही है या उसकी क्यों हो रही है |

साइटिका व् कमर दर्द का कारण – Cause of sciatica and back pain

  • इसके पीछे कारण यह है जिन लोगों के शरीर में वात यानी वायु ज्यादा है उनको यह बैक पेन की समस्या होगी | जॉइंट पेन की समस्या होगी |

वात, पित्त, कफ का बैलेंस कैसे बिगड़ता है-

  • जिन लोगों के शरीर में वात, पित्त, कफ, अपने बैलेंस में है उनको कभी यह समस्या नहीं होगी |
  • वात, पित्त, कफ का बैलेंस बिगड़ता कैसे हैं | गलत आहार लेने से |
  • अगर आप वात वाली चीजें ज्यादा खाएंगे तो हमारे शरीर में बीमारियां होगी |
  • वात के बढ़ने से हमारे शरीर में कमर दर्द, घुटने दर्द का कारण बनता है |
  • तो इसीलिए वात को दूर करने के लिए रात के समय आपने खट्टी चीजों का सेवन नहीं करना
  • यानी कि विटामिन सी फूड आपने रात के समय नहीं खाना |
  • क्योंकि यह हमारे शरीर में नसों के दर्द और हड्डियों का दर्द देती है |

कमर दर्द व् साइटिका का इलाज – Treatment of back pain and sciatica

उड़द की दाल – 

  • उड़द की दाल में बहुत सारा कैल्शियम आयरन और प्रोटीन होता है जो हमारे में मसल माँस को बनाने में मदद करता है |
  • नसों को मजबूती देने का काम करता है |
  • यह तो आप भी जानते होंगे जब हमारी नसें कमजोर हो जाती हैं तभी वह दबती है |
  • इसीलिए नसों को मजबूती देने के लिए उन चीजों का सेवन करना चाहिए जो नसों को मजबूती देती हैं |

सूखा नारियल –

  • ड्राई कोकोनट यह इतना पावरफुल है, हड्डियों के लिए, जोड़ों के दर्द को दूर करने के लिए, कमर दर्द को दूर करने के लिए |

(और पढ़ें – सूखे नारियल के फायदे)

कमर दर्द व् साइटिका दर्द में उड़द की दाल का कैसे करें सेवन – How to consume Urad Dal in back pain and sciatica pain –

  • 1 कटोरी उड़द की दाल, 1 सुखा हुआ नारियल सूखे नारियल के बहुत सारे फायदे हैं |
  • 7 से 8 हरी इलायची छोटे वाली, 1 कप देसी घी लेना है, 1 कप गन्ने की चीनी लेनी है |
  • आपने उड़द की दाल लेनी है छिलके वाली उसको आपने तीन से चार घंटों के लिए पानी में भिगो कर रख देना है |
  • उसको मसल कर हाथों से छिलका अलग कर दीजिए उसके बाद आपने इस दाल का पेस्ट तैयार करना है |

उड़द की दाल के लड्डू कैसे बनाएं- 

  • आपने एक फ्राई लेनी है उसके अंदर घी डाल देना है |
  • उसके बाद जो उड़द की दाल का पेस्ट है उसे आपने धीमी आंच में कम से कम 15 से 20 मिनट के लिए  पकाना है |
  • जब यह दाल पूरी तरह से पक जाए तब इसके अंदर आप सुखा हुआ नारियल मिक्स कर दीजिए
  • उसके बाद इसमें हरी इलायची का पाउडर मिक्स कर देना है |
  • अब इस मिशन को गुनगुना होने के लिए रख दीजिए |
  • उसके बाद जब यह गुणगुना हो जाए तब आपने इसमें गन्ने की चीनी को मिक्स कर देना है और फिर लड्डू बना लेने हैं |

(और पढ़ें – जोड़ों का दर्द, गठिये का घरेलू उपचार)

उड़द की दाल के लड्डू के फायदे –

  • यह हमारे नसों को मजबूती देगा, कमर दर्द को दूर करेगा
  • जो लोग आहार बहुत अच्छे खाते हैं लेकिन फिर भी वह कमजोरी महसूस करते हैं उनके लिए इस चीज का इस्तेमाल करना बहुत फायदेमंद है |
  • महिलाओं की डिलीवरी के बाद  इसका सेवन करना बहुत फायदेमंद है |
  • यह शरीर में आई कमजोरी को दूर कर देगा |

(और पढ़ें – शरीर में दर्द व् सूजन का घरेलू इलाज)

कितनी मात्रा में लेना है और कैसे लेना है और कब ले –
  • आप दिन में दो चम्मच ले सकते हैं |
  • जब भी आप खाली पेट महसूस करें तभी इसका सेवन करना है और इसका सेवन करने के जस्ट बाद पानी नहीं  पिए |

कमर दर्द व् साइटिका दर्द को ठीक करने के एक्यूप्रेशर पॉइंट – Acupressure points to treat back pain and sciatica pain

हमारे हाथों और पैरों में पूरे शरीर के एक्यूप्रेशर पॉइंट होते हैं आज हम आपको बताने जा रहे हैं एक्यूप्रेशर  पॉइंट के द्वारा हम साइटिका के दर्द को कैसे दूर कर सकते हैं |

  • सबसे छोटी उंगली के साथ वाली उंगली का जो बीच वाला भाग होता है
  • उस भाग को आपने आगे और पीछे से दोनों तरफ से दबाना है |
  • अगर आपको कमर दर्द है तो आप इस पोस्ट को पढ़ते हुए भी इस प्वाइंट को दबा लीजिए आपको आराम मिलेगा |
Back Pain treatment | sciatica - Acupressure point - Image - 1
Back Pain treatment | sciatica – Acupressure point – Image – 1
  • आपने इंडेक्स फिंगर और अंगूठे के बीच वाला जो भाग होता है आप वहां पर दबाना है |
Back Pain treatment | sciatica - Acupressure point - Image - 2
Back Pain treatment | sciatica – Acupressure point – Image – 2
  • यह परमानेंट इलाज नहीं है, परमानेंट इलाज तभी होगा |अगर आप अपने शरीर से सूजन वात व् वायु को दूर करने का इलाज करेंगे और नसों को मजबूती देने वाला इलाज करेंगे |
  • एक्यूप्रेशर पॉइंट को आप दिन में तीन से चार बार दबा सकते हैं |

ये थी जानकारी साइटिका, कमर दर्द को ठीक करने की |

अगर आप को ये Post अच्छी लगी तो Comment कर के जरूर बताएं और अपने Friends के साथ जरूर शेयर कीजिएगा अगर अभी तक आप ने मेरी Website www.myfitnessbeauty.com को Subscribe नहीं किया है तो Subscribe कर लीजिए तांकि मेरे आने वाले Post के Notification और उसके Updates आप को मिलते रहें |


मिलते है Next Post में तब तक के लिए Good Bye |

दिव्या शर्मा