Treatment of slip disc and pinched nerve

Treatment of slip disc and pinched nerve
Treatment of slip disc and pinched nerve

आज हम इस पोस्ट में बात करेंगे स्लिप डिस्क और दबी नस का इलाज(Treatment of slip disc and pinched nerve) के बारे में | पानी या दूध के अंदर आप इस चीज को ले लेते हैं | तो 100% इन सभी बीमारियों को आप अपने शरीर से दूर कर देंगे |हमारी गलत लाइफस्टाइल एक ही जगह पर घंटों तक बैठे रहने  के कारण नसों में दर्द होना स्वभाविक है | लगभग हर एक इंसान ने नसों के दर्द को महसूस किया होगा |

(और पढ़ें – यूरिक एसिड का घरेलू इलाज)

नसों की समस्या स्लिप डिस्क की समस्या(Treatment of slip disc and pinched nerve) अगर किसी इंसान को हो जाती है | उसकी जिंदगी असल में बहुत मुश्किल में पड़ जाती है | उस इंसान का उठना, बैठना, चलना, फिरना, और सोते समय करवट लेना भी बहुत मुश्किल हो जाता है| हमारे शरीर में नसों की दबने की समस्या किसी भी भाग में हो सकती है | उस भाग में दर्द होना शुरू हो जाता है | तो सबसे पहले जानते हैं नसों के दबने की समस्या, नसों की कमजोरी की समस्या, स्लिप डिस्क की समस्या आखिर होती किन कारणों से है |

इस पोस्ट को शुरू करने से पहले आपको एक बात बताना जरूरी है कि यह पोस्ट नीचे दी गईं वीडियो का लिखित रूप है | जो जानकारी इस वीडियो में दी गईं है वही जानकारी इस पोस्ट में भी दी गईं है |

इस Post की वीडियो को देखने के लिए नीचे Play बटन पर Click करें

नस दबने की समस्या का कारण :-

  • नस दबने की समस्या उन लोगों में ज्यादा होती है जो लोग फिजिकल एक्टिविटी नहीं करते |
  • एक ही जगह पर घंटों तक बैठे रहते हैं |

  • एक्सरसाइज योगा बिल्कुल नहीं करते शारीरिक मेहनत बिल्कुल नहीं करते |
  • उम्र बढ़ने के कारण भी यह समस्या हो जाती है |
  • कुछ लोगों को चोट लगने के कारण भी नस दब जाती है |
  • नसों में खून की सप्लाई अच्छे से नहीं होती जिस कारण से नसों में दबाव आ जाता है |
  • कुछ लोगों को साइटिका की समस्या के कारण भी नसों में कमजोरी, स्लिप डिस्क की समस्या आ जाती है |
  • जो लोग बहुत ज्यादा शराब पीते हैं या फिर हमारे शरीर में दो ऐसे मिनिरल्स जिन की कमी से भी नसों में कमजोरी नसों में दबाव आता है |
  • वह मिनरल्स कौन सा है विटामिन B12 विटामिन b1 यह दोनों मिनरल्स नसों की कमजोरी का कारण है |
  • जब हमारे शरीर की कोई भी नस कमजोर पड़ जाती है या फिर स्लिप डिस्क की समस्या हो जाती है |
  • तो उस भाग पर सूजन आना, दर्द होना, सुन्नपन यानी नंबनेस एहसास नहीं होना यह फिलिंग उस भाग पर होने लगती है |
  • अगर आपको भी नसों में दबाव की समस्या है स्लिप डिस्क की समस्या है |

(और पढ़ें – शरीर से वात यानि वायु को बाहर करने का घरेलू नुस्खा)

नस दबने की समस्या में हल्दी का सेवन –

बारिश का मौसम चल रहा है तो बारिश मौसम में नसों की समस्या को दूर करने के लिए आपको रात को सोते समय रोजाना हल्दी वाला दूध पीना चाहिए |

कैसे बनाएं हल्दी वाला दूध –

Treatment of slip disc and pinched nerve - Turmeric milk - Image - 1
Treatment of slip disc and pinched nerve – Turmeric milk – Image – 1
  • आपने हल्दी को पकाना नहीं है |
  • अगर आपको कच्ची गांठ वाली हल्दी मिल जाए जो की अदरक की तरह दिखती है तो वह ज्यादा फायदेमंद होगी |
  • नहीं तो आप सुखी हुई हल्दी लीजिए जो गांठ के रूप में हो और उसे घर पर अच्छे से पीस लीजिए |

(और पढ़ें – कमर दर्द का घरेलू उपचार)

  • उसको अच्छे से छानकर हल्दी को निकाल लेना है |
  • उस हल्दी का 1/4  चम्मच एक गिलास उबले हुए दूध में डालनी है |
  • एक बात का ध्यान रखें हल्दी को डालकर दूध को नहीं उबालना |
  • आपने पहले दूध को उबालना है उसके बाद हल्दी को डालना है | 
  • जब दूध उबल जाए तो उसको 5 से 7 मिनट के लिए ठंडा होने के लिए रख दीजिए |
  • उसके बाद इसमें एक चम्मच शहद को मिक्स करके रात को सोते समय चाय की तरह पी लेना है |
  • हल्दी में मौजूद करक्यूमिन एक ऐसा एंटी ऑक्सीडेंट होता है जो दर्द, व सूजन को दूर करता है |

(और पढ़ें – सीने में जलन, एसिडिटी का घरेलू उपचार)

स्लिप डिस्क और दबी नस का इलाज – Treatment of slip disc and pinched nerve

एलोवेरा जूस – 

Treatment of slip disc and pinched nerve - Aloe vera - Image - 2
Treatment of slip disc and pinched nerve – Aloe vera – Image – 2

एलोवेरा एक ऐसी औषधि है जो 108 रोगों को दूर करती है | आपने एलोवेरा का एक ऐसा मिश्रण तैयार करना है जो नसों में होने वाली कमजोरी नसों, नसों में दबाव, स्लिप डिस्क की समस्या को दूर करेगा | आपने इसे बनाना कैसे हैं तो आइए जानते हैं | 

  • आपने 200 ग्राम एलोवेरा का एक गुड्डा ले लेना है |
  • उसको जूस के रूप में तैयार कर लीजिए |
  • उसको आपने चार सौ ग्राम आटे के अंदर मिक्स कर लेना है |
  • उसके बाद आपने एक कढ़ाई को गर्म होने के लिए गैस पर रख देना है | कढ़ाई में 100 ग्राम घी डाल देना है |
  • उसके बाद एलोवेरा मिक्स आटे को उसके अंदर  भूनना है |
  • जब यह हल्का भूरा हो जाए तब यह पक जाएगा |
  • इसके अंदर आप गुड मिक्स करिए उसके बाद चाहे तो आप इसे ऐसे ही रखने या इसके लड्डू भी बना सकते हैं |

(और पढ़ें – घुटनों के दर्द का उपचार)

कैसे करें सेवन –

  • इसका सेवन आपने सुबह नाश्ते से पहले गुनगुने दूध के साथ करें या फिर आप गुनगुने पानी के साथ सेवन कर सकते हैं |
  • जिन लोगों को अंदरूनी कमजोरी रहती है उन लोगों को भी इसका सेवन करना बहुत फायदेमंद है |
  • इसका सेवन आपने सुबह के समय ही करना है और 4 से 5 सप्ताह के लिए ही इसका सेवन करें |

विटामिन B12 विटामिन b1 की कमी को पूरा कैसे करें :-

  • यह दोनों ही मिनरल्स नॉनवेज के अंदर बहुत अच्छी मात्रा में होते हैं |
  • अगर आप वेजिटेरियन हैं तो आप विटामिन सी फूड्स खाइए |
  • उनके अंदर अच्छी मात्रा में यह दोनों मिनरल्स होते हैं |

(और पढ़ें – साइटिका का घरेलू उपचार)

  • वेजिटेरियन लोग दूध व दूध से बनी चीजों का सेवन करें |
  • अंकुरित अनाज का सेवन करें |
  • गाजर का सेवन करें |
  • लेकिन आपने रोजाना का रोजाना इन चीजों का सेवन करना होगा |
  • क्योंकि विटामिन B12 वाटर सोलवल विटामिन है जो कि हमें रोज का रोज लेना पड़ता है |
  • अपने शरीर की तेल से मालिश जरूर करें |
  • मालिश के लिए आप जो तेल ले रहे हैं वह या तो सरसों का तेल, ऑलिव ऑयल या फिर तिल का तेल ले सकते हैं |
  • क्योंकि यह तेल गाढ़ा होता है |
  • सुबह की धूप भी आप जरूर लीजिए क्योंकि अगर आप धूप लेंगे तो मालिश का दुगना फायदा मिलेगा |
  • आपने एक्सरसाइज, व्यायाम, योगा जरूर करना है क्योंकि जो भी लोग फिजिकल एक्टिविटी नहीं करते उन लोगों के अंदर नसों की समस्या ज्यादा देखने को मिलती है |
  • मांसपेशियों को मजबूत करने के लिए आपने पोटेशियम वाली डाइट का सेवन करना है |
  • पोटेशियम में सबसे अच्छी चीज है केला, संतरा, शकरगंद, तरबूज, नारियल का पानी, चुकंदर, उबला हुआ आलू, खजूर, दही, टमाटर, आप इनका सेवन कीजिए |
  • यह सारे पोटेशियम फूड है जिन्हें आप अपनी डाइट में शामिल करते हैं |
  • तो आपको कभी भी मांसपेशियों से संबंधित कोई भी समस्या नहीं होगी |
  • लेकिन एक बात का आपने जरूर देखना है पोटेशियम डाइट को लेते समय सोडियम का बिल्कुल ध्यान रखना है |
  • क्योंकि सोडियम का सेवन करने से ही हमें मांसपेशियों में समस्या आती है |
  • इसलिए आपने सोडियम का कम से कम सेवन करना है |
  • पानी ज्यादा से ज्यादा पिए |

(और पढ़ें – आँखों की रौशनी को तेज करने का घरेलू तरीका)

ये थी जानकारी स्लिप डिस्क और दबी नस का इलाज(Treatment of slip disc and pinched nerve) के बारे में |

अगर आप को ये Post अच्छी लगी तो Comment कर के जरूर बताएं और अपने Friends के साथ जरूर शेयर कीजिएगा अगर अभी तक आप ने मेरी Website www.myfitnessbeauty.com को Subscribe नहीं किया है तो Subscribe कर लीजिए तांकि मेरे आने वाले Post के Notification और उसके Updates आप को मिलते रहें |


मिलते है Next Post में तब तक के लिए Good Bye |

दिव्या शर्मा