Benefits of eating curd

Benefits of eating curd
Benefits of eating curd

आज मैं आपको बताने जा रही हूं दही (curd) के बारे में | 90% से भी ज्यादा लोग दही को गलत ढंग से खाते हैं | जिसकी वजह से इसके बेशुमार फायदे लेने की वजाये वह पिंपल्स, हेयर फॉल, कॉन्स्टिपेशन, गैस, एसिडिटी, कफ, साइनस और बुखार जैसी बीमारियों को न्योता दे बैठते हैं | इसीलिए अगर आप जानना चाहते हैं कि दही (curd) खाने का सही तरीका क्या है तो यह पोस्ट आप अंत तक जरूर पढ़िए |

curd

दही (curd) में अच्छे बैक्टीरिया होते हैं जो डाइजेशन में हेल्प करते हैं | फिर भी रोजाना दही खाने से लोगों का डाइजेशन सिस्टम ठीक नहीं होता | इसीलिए उन्हें कोई न कोई दवाई खानी पड़ती है | अपने पाचन तंत्र को सही रखने के लिए | दोस्तों दही एक एनिमल प्रोटीन है और इसमें जिंदा बैक्टीरिया होते हैं | इसीलिए खास ध्यान रखना चाहिए जब भी आप दही खा रहे हैं | आयुर्वेद की किताब अष्टांग हृदयम में दही का सेवन सही तरीके से करने के बारे में बताया गया है और लोग इसके बारे में बहुत कम जानते हैं | तो दोस्तों जानते हैं हमने कब, कैसे और कौनसी दही (curd) खानी है ताकि आपको इसका ज्यादा से ज्यादा फायदा मिल सके |

(और पढ़ें – कैल्शियम की कमी को पूरा करने का घरेलू इलाज)

इस पोस्ट को शुरू करने से पहले आपको एक बात बताना जरूरी है कि यह पोस्ट नीचे दी गईं वीडियो का लिखित रूप है | जो जानकारी इस वीडियो में दी गईं है वही जानकारी इस पोस्ट में भी दी गईं है |

इस Post की वीडियो को देखने के लिए नीचे Play बटन पर Click करें

दही (curd) के अंदर किन चीजों को ना मिलाएं :-

कभी भी दही में नमक या चीनी मिलाकर कभी ना खाएं | इसका मतलब यह नहीं है कि आपने नमकीन दही या मीठी दही नहीं खानी | बल्कि दही के अंदर सफेद नमक और सफेद चीनी नहीं डालनी | क्योंकि इन दोनों में केमिकल को रिफाइंड किया जाता है जिसके कारण यह प्रोबायोटिक बैक्टीरिया को खत्म कर देते हैं | अगर आप सफेद नमक या सफेद चीनी डालकर दही को खाते हैं तो आपको दही खाने का कोई भी फायदा नहीं मिलेगा | यह सिर्फ पेट भरने का ही काम करेगा | लेकिन हमारे शरीर को कोई फायदा नहीं मिलेगा |

(और पढ़ें – खून की कमी कैसे पूरी करें)

इनकी जगह किस चीज को मिक्स करें –

आप सफेद नमक की जगह सेंधा नमक या काला नमक का इस्तेमाल कर सकते हैं और सफेद चीनी की जगह पर आप गुड या फिर मिश्री डालनी है | ऐसा करने से दही का टेस्ट भी बढ़ जाएगा और दही के पोषक तत्व भी कम नहीं होंगे |

किस दही (curd) का सेवन करें :-

1. वैसे तो यह दोनों ही दही हमारे शरीर के लिए अच्छी है | लेकिन इन्हें अलग-अलग बीमारियों में अलग-अलग तरीके से खाया जाता है |

2. अगर आपके अंदर बहुत ज्यादा एसिडिटी बनती है | शरीर में गर्मी ज्यादा रहती है, बाल ज्यादा झड़ते हैं तो आपने यहां पर मीठी दही का इस्तेमाल करना है |

3. अगर आपके अंदर गैस बहुत ज्यादा बन रही है | शरीर में दर्द रहता है तो आपको नमकीन दही का सेवन करना है |

क्या दही का सेवन रात को करना चाहिए :-

वाग्भट ऋषि के अनुसार दही को कभी भी सूर्यास्त के बाद नहीं खाना चाहिए | आयुर्वेद में बताया गया है कि जब सूर्यास्त हो जाता है तब शरीर का टेंपरेचर नेचुरल कम हो जाता है | कफ बढ़ने लगती है | दही जो है वह कफ वर्धक है तो रात में दही खाने से यह नाड़ियों की ब्लॉकेज को बढ़ा देती है | सर्दी-जुखाम, साइनस, बुखार, कब्ज और ब्लॉकेज के लक्षण दिखाई देने लगते हैं |

किन चीजों के साथ दही का सेवन ना करें :-

दही में जीवित बैक्टीरिया होते हैं तो ऐसे फूड को खाते समय ध्यान देना चाहिए | अगर हमने इसे गलत चीज के साथ खा लिया तो यह शरीर में टॉक्सिन बनाने में समय नहीं लगाएगा |

दो चीजों के साथ आपने दही का सेवन नहीं करना |

 खीरे व बूंदी का रायता मिक्स ना करें –

खीरे का रायता नहीं खाना, और बूंदी का रायता नहीं खाना

खीरा और दही एक विरुद्ध आहार हैं | इन्हें एक साथ खाने से शरीर के अंदर आम बनने लगता है जिससे स्किन की समस्या और एसिडिटी की समस्या हो जाती है | आप खीरे की जगह घिये का रायता खा सकते हैं |

बूंदी को डी फ्राई किया जाता है इसलिए इसे खाने से शरीर के अंदर चर्बी बढ़ती है |

दही और दूध को मिक्स ना करें –

दही और दूध को कभी भी मिक्स करके नहीं खाना चाहिए | कभी कबार औरतें क्या करती हैं दही को बढ़ाने के लिए या फिर जब बच्चों को दही देती है या फिर दही जब खट्टी होती है इसमें दूध मिक्स कर देती है | आजकल की रेसिपीज में भी दही और दूध को मिक्स करके बनाया जाता है | ऐसा अगर आप खाते हैं तो फायदे तो दूर की बात बहुत सारी बीमारियां हमारे शरीर में आ जाती हैं | क्योंकि दही और दूध दोनों विरुद्ध आहार हैं |

कुछ अन्य चीजें जिन्हें दही के साथ मिक्स करके नहीं खाना –

कुछ विरुद्ध आहार हैं जो दही के साथ नहीं खाए जाते जैसे कि दही के साथ मछली, बैंगन, अंडा, केला आदि इन चीजों का भी सेवन नहीं किया जाता |

दही खाने के दुष्प्रभाव :-

दही खाने से पिंपल की समस्या –

अगर आपके चेहरे पर पिंपल बहुत ज्यादा है तो इसका एक कारण हो सकता है कि आप रोजाना दही (curd) का सेवन करते हैं |

मुंहासे और खुजली की समस्या –

अगर आपको मुंहासे और खुजली की समस्या है तो दही को खाते समय सावधानियों को बरतें हैं | ऐसी कंडीशन में दही का सेवन ना करें | फिर भी अगर आप खाना चाहते हैं तो खट्टी दही (curd) का सेवन बिल्कुल ना करें | क्योंकि यह स्किन की समस्या को और बढ़ा देती है |

जोड़ों में दर्द की समस्या –

दही को जोड़ों के दर्द में भी नहीं खाया जाता | अगर आप खाना चाहते हैं तो दही (curd) के अंदर 1/4 चम्मच सोंठ का पाउडर मिक्स करके खाए |

दही को गर्म करके खाना :-

1. आजकल लोग दही को सब्जियों के अंदर पका कर खाते हैं या फिर दही को गर्म करके खाते हैं | आपको बता दें दही को कभी भी गरम नहीं करना चाहिए | क्योंकि इसके गुड बैक्टीरिया और गुण खत्म हो जाते हैं | इसकी तासीर भी गर्म हो जाती है | जिसके कारण यह हमारे अंदर मुश्किल से पचती हैं |

2. गरम दही खाने से एलर्जी की समस्या भी हो जाती है | इसके अलावा मार्केट में मिलने वाले दही की बजाए घर की दही खानी है और दही के अंदर शहद, गुड या फिर मिस्त्री मिक्स करके खाएं | यह आपके पाचन तंत्र को मजबूत करती है |

(और पढ़ें – नसों की समस्या का इलाज)

क्या दही को रोजाना खाना चाहिए :-

दही को कभी भी 12 महीने लगातार नहीं खाना चाहिए | इसे आपको सीजनिंग फूड की तरह खाना चाहिए | जब बारिश का मौसम हो तब दही का सेवन ना करें | क्योंकि बारिश के अंदर तीनों धातु वात, पित्त, कफ बढ़ जाते हैं और वातावरण में भी नमी होती है | हमारा डाइजेशन भी मंद पड़ चुका होता है तो बारिश में दही खाने से शरीर में टॉक्सिंस बढ़ते हैं | जिससे एलर्जी की समस्या हो जाती है |

कैसे और कौन सी दही का सेवन करें :-

1. दही को सर्दियों के दिनों में खाना अच्छा माना जाता है और बारिश के समय खाना गलत है |

2. यह गर्मियों के दिनों में खाना अच्छा है |

3. दही का सेवन आप सूर्यास्त से पहले करें |

(और पढ़ें – हड्डियों को बनाएं मजबूत घरेलू उपाय से)

कब्ज की समस्या में दही का सेवन कब करें –

अगर आपको कब्ज की समस्या है तो दही का सेवन आप ब्रेकफास्ट से पहले करें |

इसके अंदर मिश्री, गुड या शायद मिक्स करके खाएं |

शरीर को स्ट्रैंथ देने के लिए दही का सेवन कब करें –

अगर आप दही को न्यूट्रिशन और शरीर को स्ट्रैंथ देने के लिए दही का सेवन करना चाहते हैं |

तो आप दही का सेवन ब्रेकफास्ट या लंच के साथ खा सकते हैं |

कौन सी दही का सेवन करें –

1. मिट्टी के बर्तन में जमी दही का सेवन करें | फ्रिज में रखकर जमाई गई दही का सेवन ना करें |

2. ताजी देवी का सेवन करें |

3. गाय के दूध की दही का सेवन करें |

(और पढ़ें – चेहरे की समस्या का घरेलू उपचार)

किन लोगों के लिए है दही खाना फायदेमंद और नुकसान :-

1. दही से वात दोष कम होता है | लेकिन कफ दोष बढ़ता है |

2. साइनस, अस्थमा और स्किन प्रॉब्लम में दही को सावधानी से खाएं |

3. कैल्शियम से भरपूर होती है दही |

4. इसमें फास्फोरस, प्रोबायोटिक, एमिनो एसिड और बलवर्धक दही सुपर फूड मानी जाती है |

(और पढ़ें – कोलेस्ट्रॉल की समस्या को करें जड़ से खत्म)

ये थी जानकारी दही खाने के फायदे (Benefits of eating curd) के बारे में |

अगर आप को ये Post अच्छी लगी तो Comment कर के जरूर बताएं और अपने Friends के साथ जरूर शेयर कीजिएगा अगर अभी तक आप ने मेरी Website www.myfitnessbeauty.com को Subscribe नहीं किया है तो Subscribe कर लीजिए तांकि मेरे आने वाले Post के Notification और उसके Updates आप को मिलते रहें |

मिलते है Next Post में तब तक के लिए Good Bye |

इस Post की वीडियो को देखने के लिए नीचे Play बटन पर Click करें |

इस पोस्ट की YouTube वीडियो देखने के लिए यहाँ क्लिक करें

नीचे दिए गए सभी कारणों से इस पोस्ट को पढ़ा जा सकता है :-

dahi khane ke fayde
dahi ke fayde
दही के फायदे
swasthya aur saundarya
rojana dahi
dahi khane ka tarika
rojana dahi khane ke fayde
दही खाने के 15 बेहतरीन फायदे
dahi ke benefits in hindi
रोजाना दही खाने के फायदे
curd benefits in hindi
curd benefits
dahi khane ke fayde in hindi
benefits of curd
dahi khane ka sahi samay